Sale!

Traditional 5 Dhatu Pearl Ring – (Energized – मंत्र द्वारा पवित्र/शुद्ध किया हुआ)

1,100.00 720.00

  • Net Metal Weight (in gms) : 8
  • Stone Used : Pearl
  • No. Of Coloured Stone : 1
  • Coloured Stone Carat : 5.25
  • Indian Standard Ring Size : Adjustable
  • Certification : Self certified
  • Warranty : 15 days
  • Jewellery Care : Sprays And Water
  • Disclaimer : Product colour may slightly vary due to photographic lighting sources or your monitor settings
  • When The Moon Is Debilitated In The Native’s Chart, It Creates Health Issues Of The Mother, Inharmony Between Mother And Son, Loss Of Memory Etc. To Neutralize The Negativity Of The Moon, Pearl Should Be Advised To Wear By Astrologers.
SKU: jy288 Category:

Description

रत्न मोती

सादगी, पवित्रता और कोमलता की निशानी माने जाने वाला मोती एक चमत्कारी ज्योतिषीय रत्न माना जाता है। इसे मुक्ता, शीशा रत्न और पर्ल (Pearl) के नाम से भी जाना जाता है। मोती सिर्फ एक रंग का ही नहीं होता बल्कि यह कई अन्य रंगों जैसे गुलाबी, लाल, हल्के पीले रंग का भी पाया जाता है। मोती, समुद्र के भीतर स्थित घोंघे नामक कीट में पाए जाते हैं।
मोती के तथ्य (Facts of Moti or Pearl in Hindi)
* मोती के बारे में बताया जाता है कि यह रत्न, बाकी रत्नों से कम समय तक ही चलता है क्योंकि यह रत्न रूखेपन, नमी तथा एसिड से अधिक प्रभावित हो जाता है।
* प्राचीनकाल में मोती (Pearl or Moti) को सुंदरता निखारने के लिए इस्तेमाल में लाया जाता था तथा इसे शुद्धता का प्रतीक माना जाता था।
मोती के लिए राशि (Moti for Cancer Rashi)
कर्क राशि के जातकों के लिए मोती धारण करना अत्याधिक लाभकारी माना जाता है । चन्द्रमा से जनित बीमारियों और पीड़ा की शांति के लिए मोती धारण करना लाभदायक माना जाता है।
मोती के फायदे (Benefits of Pearl or Moti in Hindi)
* मोती धारण करने से आत्मविश्वास में वृद्धि होती है। जो जातक मानसिक तनाव से जूझ रहें हों उन्हें मोती को धारण कर लेना चाहिए।
* जिन लोगों को अपनी राशि ना पता हो या कुंडली ना हो, वह भी मोती धारण कर सकते हैं।
स्वास्थ्य में मोती का लाभ (Benefits of Pearl in Health)
* मानसिक शांति, अनिद्रा आदि की पीड़ा में मोती बेहद लाभदायक माना जाता है।
* नेत्र रोग तथा गर्भाशय जैसे समस्या से बचने के लिए मोती धारण किया जाता है।
* मोती, हृदय संबंधित रोगों के लिए भी अच्छा माना जाता है।
कैसे धारण करें मोती (How to Wear Pearl)
ज्योतिषानुसार मोती सोमवार के दिन धारण करना शुभ होता है। मोती धारण करते समय चन्द्रमा का ध्यान और उनके मंत्रों का जाप करना चाहिए। चांदी की अंगूठी में मोती धारण करना अत्यधिक श्रेष्ठ माना जाता है।
मोती के उपरत्न (Substitutes of Pearl)
मान्यता है कि मोती नहीं खरीद पाने की स्थिति में जातक मूनस्टोन, सफेद मूंगा या ओपल भी पहन सकते हैं।
नोट: किसी भी रत्न को धारण करने से पहले रत्न ज्योतिषी की सलाह अवश्य ले लेनी चाहिए।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Traditional 5 Dhatu Pearl Ring – (Energized – मंत्र द्वारा पवित्र/शुद्ध किया हुआ)”

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X