अखंड रामायण कहने के अवश्यक नियम

अखंड रामायण कहने के अवश्यक नियम* *–* श्री राम और रामायण दोनों पर मेरी बहुत ही श्रद्धा है अखण्ड रामायण करने कराने का अमोघ फल होता है इसमें दो राय नहीं है बशर्ते पाठ ठीक से किया जाये पाठ खंडित न होने पाये । कहते हैं कि अखण्ड रामायण पाठ गोस्वामीजी के समय में ही...

सफलता पाने का मंत्र भाग्यांक द्वारा

सफलता पाने का मंत्र भाग्यांक द्वारा बहुत से लोगो को अपनी राशी पता नहीं होती हैं उन सभी के लिए केवल उनके भाग्यांक जन्म तारीख की संख्याओ का जोड़ 24-10-1970=2+4+1+1+9+70+=6 सफलता पाने का मंत्र यहाँ पर दिया जा रहा हैं | भाग्यांक 1 एक ही ब्रांड की वस्तुए ज्यादा से ज्यादा...

राहू और केतू

राहू और केतू* राहू केतू छाया गृह माने जाते हैं हिन्दू ज्योतिष में इन्हे दैत्य माना जाता हैं जो सूर्य व चन्द्र को भी ग्रहण लग देते हैं यह दोनों हमेंशा वक्रावस्था मेंं रहते हुये एक दूसरे के विपरीत भावों मेंं रहते हैं राहू को केतू से ज़्यादा भयानक माना गया हैं पुरानो के...

बुध और व्यक्तित्व

बुध और व्यक्तित्व बुध की उत्पत्ति से जो कथा जु़डी है, वह है चंद्रमा द्वारा बृहस्पति की पत्नी तारा का अपहरण। गर्भवती होने पर तारा ने बृहस्पति के डर से गर्भ को इषीकास्तम्ब में विसर्जित कर दिया। इषीकास्तम्ब से जब दीप्तिमान एवं सुंदर बालक बुध का जन्म हुआ तो चंद्रमा एवं...

चमत्कारी रक्त गुंजा के कुछ प्रयोग

चमत्कारी रक्त गुंजा के कुछ प्रयोग:- गुंजा तंत्र शास्त्र में जितनी मशहूर है उतनी ही आयुर्वेद में भी। आयुर्वेद में श्वेत गूंजा का ही अधिक प्रयोग होता है औषध रूप में साथ ही इसके मूल का भी जो मुलैठी के समान ही स्वाद और गुण वाली होती है। इसीकारण कई लोग मुलैठी के साथ इसके...
X